अब ट्रेन में मिलेगी मसाज की सुविधा, रेलवे को होगी 20 लाख की आय

0
47

रतलाम
भारतीय रेलवे अपने यात्रियों की बेहतर सुविधाओं के लिए अनेक तरह से प्रयासरत है। अब रेलवे एक अनोखी सेवा अपने यात्रियों के लिए शुरू करने जा रही है। आपको बता दें कि ट्रेन में अब यात्रा के दौरान यात्रियों को मसाज कराने की सर्विस उपलब्ध होने जा रही है। यह सुविधा पश्चिम रेलवे जोन की रतलाम डिवीजन के इंदौर रेलवे स्टेशन से चलने वाली 39 एक्सप्रेस और सुपरफास्ट ट्रेनों में ही उपलब्ध कराई जाएगी। इस सुविधा के शुरू हो जाने से यात्रा करने वाले यात्रियों को सिर दर्द या पैर दर्द होने पर किसी भी प्रकार की दवाई का सहारा नहीं लेना पड़ेगा। 

यदि कोई यात्री यात्रा के दौरान मसाज की सुविधा का लाभ उठाना चाहता हो तो उसे 100 रुपए चुकाना होंगे। इसके लिए टीटीई और कोच में फोन नंबर उपलब्ध करा दिए जाएंगे। यात्री के फोन करने पर मजासर बताई गई बर्थ पर पहुंचकर यात्री के हेड या फूट की मसाज करेंगे। यात्री इसका फायदा सुबह 6 से रात 10 बजे तक ही उठा पाएंगे। हर एक गाड़ी में दो ट्रेंड मजासर चलेंगे। 

आनुमानिक तौर पर इस सुविधा के शुरू होने से रेलवे को 20 लाख रुपए की वार्षिक अतिरिक्त आय होगी एवं 90 लाख रुपए की अतिरिक्त टिकट की भी बिक्री होगी। बता दें कि रतलाम रेल डिवीज़न ने न्यू इनोवेटिव नॉन फेयर रैवेन्यू आइडियाज स्कीम के तहत लाइसेंस ऑफ एग्रीमेंट के तहत यह सुविधा शुरू की है। 

आपको बता दें कि इस तरह की सुविधा भारतीय रेलवे में पहली बार शुरू की जा रही है। यदि इंदौर की ट्रेनों में प्रयोग सफल हुआ तो रतलाम, उज्जैन से चलने वाली अन्य ट्रेनों में भी जल्द इस तरह की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी।