आईपीएल में भी नजर नहीं आएंगे युवराज सिंह 

0
42

मुंबई
युवराज सिंह ने सोमवार को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट ही नहीं बल्कि इंडियन प्रीमियर लीग को भी अलविदा कह दिया जिस लुभावनी टी20 लीग में वह 2015 में सबसे महंगे खिलाड़ी थे लेकिन पिछले सत्र में आधार मूल्य पर बिके। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास के बावजूद आईपीएल में खेलते रहने की परंपरा को तोड़ते हुए युवराज ने कहा कि पिछले साल ही उन्होंने स्पष्ट कर लिया था कि वह इस लुभावनी प्रतियोगिता के साथ अपने करियर का अंत करेंगें। युवराज को 2015 में दिल्ली प्रेंच्च्चाइजी ने 16 करोड़ रुपये में खरीदा था लेकिन पिछले सत्र में मुंबई इंडियन्स ने उन्हें सिर्फ एक करोड़ रुपये के आधार मूल्य पर खरीदा।

भावुक युवराज ने यहां मीडिया से कहा कि पिछले साल ही मैंने सोचा कि इस साल का आईपीएल मेरा आखिरी होगा। उन्होंने कहा कि मैं आईपीएल के लिए उपलब्ध नहीं हूं। मैंने बीसीसीआई और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया है। मैं भारत के बाहर खेलने को लेकर उत्सुक हूं (टी20 लीग में)। युवराज आईपीएल में किंग्स इलेवन पंजाब और अब खत्म हो चुकी पुणे वारियर्स की कप्तानी कर चुके हैं। वह रायल चैलेंजर्स बेंगलोर और सनराइजर्स हैदराबाद की ओर से भी खेले। बायें हाथ के इस बल्लेबाज ने इस साल मुंबई इंडियन्स की ओर से चार मैचों में 24. 50 की औसत से 98 रन बनाए जिसमें एक अर्धशतक शामिल रहा। युवराज हालांकि बीसीसीआई से स्वीकृति मिलने की स्थिति में दुनिया भी की घरेलू टी20 लीग में खेलना जारी रखना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि मैं टी20 क्रिकेट खेलना चाहता हूं। इस आयु में मैं लुत्फ उठाने के लिए क्रिकेट खेलना चाहता हूं। मैं अपने जीवन का लुत्फ उठाना चाहता हूं। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के बारे में सोचना, प्रदर्शन करना और आईपीएल जैसे बड़े टूर्नामेंट में खेलना काफी तनावपूर्ण है। युवराज ने कहा कि मैं अब सिर्फ लुत्फ उठाना चाहता हूं। बीसीसीआई की स्वीकृति से मैं विदेशों में खेलना चाहता हूं। उन्होंने कहा कि यह काफी लंबी और कड़ी यात्रा रही और मुझे लगता है कि मैं इसका हकदार हूं।