कर्नाटक: जमीन बेचने के खिलाफ BJP का धरना, नेताओं संग जमीन पर सोए येदियुरप्पा

0
16

बेंगलुरु

कर्नाटक में जिंदल ग्रुप को 3 हजार 667 एकड़ जमीन दिए जाने के विरोध में बीजेपी बेंगलुरु में जोरदार प्रदर्शन कर रही है. राज्य के पूर्व सीएम और भारतीय जनता पार्टी के कई नेता पूरी रात धरनास्थल आनंदराव सर्किल पर मौजूद रहे. पूर्व सीएम येदियुरप्पा के साथ विधायक गोविंद करजोल, पूर्व डिप्टी सीएम आर अशोक और सांसद उमेश जाधव प्रदर्शनस्थल पर ही रातभर सोए. बीजेपी का ये प्रदर्शन शनिवार को भी जारी रहेगा.

14 जून को बेंगलुरु में आनंदराव सर्किल के पास धरना की शुरुआत करते हुए येदियुरप्पा ने आरोप लगाया है कि राज्य सरकार जिंदल स्टील को एक लाख रुपये प्रति एकड़ की दर से 3667 एकड़ जमीन दे रही है, जो कि बेहद कम कीमत है. येदियुरप्पा ने कहा कि इतने बड़े सौदे के लिए राज्य सरकार ने राज्य की जनता से इजाजत नहीं ली है. येदियुरप्पा ने कहा है कि इस सौदे के बदले कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन को कमीशन मिला है.

BJP के विरोध के आगे झुकी सरकार

इधर बीजेपी के प्रदर्शन के सामने झुकते हुए राज्य सरकार ने इस डील को कैबिनेट की उप समिति को भेज दिया है. ये कमेटी सौदे से जुड़े पहलुओं का अध्ययन करेगी. ग्रामीण विकास मंत्री कृष्णा गौड़ा ने बताया कि बेल्लारी स्थित इस जमीन को बेचने को लेकर कई आपत्तियां थी इसलिए उद्योग मंत्री के जे जॉर्ज ने मुख्यमंत्री से अपील की और कहा कि कैबनिट की एक उपसमिति का गठन किया जाए और इसे सौदे की पूरी जांच की जाए, इसके बाद सीएम एचडी कुमारस्वामी ने ऐसा ही किया. बता दें कि राज्य सरकार ने पहले बेल्लारी में जिंदल स्टील वर्क्स को 3667 एकड़ जमीन लीज पर दी थी. अब सरकार इसी जमीन को जिंदल ग्रुप को बेचना चाहती है.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एक के पाटिल सरकार को पत्र लिखकर इस सौदे का विरोध कर रहे हैं. वहीं जिंदल स्टील के चेयरमैन सज्जन जिंदल ने कहा है कि उनकी कंपनी कभी भी गैरकानूनी काम नहीं करती है न ही JSW किसी से कर्नाटक के लोगों का नुकसान पहुंचा सकती है.