छात्रसंघ चुनाव कराने फाइल जाएगी राजभवन

0
34

भोपाल

प्रदेश के निजी और सरकारी कालेजों के साथ विश्वविद्यालयों में छात्रसंघ चुनाव कराने के लिए उच्च शिक्षा विभाग फाइल को राजभवन भेजेगा। आगामी सत्र 2020-21 के एकेडमिक कैलेंडर को चुनाव का स्थान दे दिया गया है। राजभवन से फाइल आने के बाद विभाग चुनाव की तैयारी कराएगा।

उच्च शिक्षा विभाग गत वर्ष विधानसभा और लोकसभा चुनाव होने के कारण प्रदेश के कालेज और विश्वविद्यालयों में छात्रसंघ चुनाव नहीं करा सका था। सत्र 2020-21 में ये चुनाव होंगे। इसकी फाइल तैयार कर ली गई है, जिसे स्वीकृत कराने के लिए राजभवन भेजा जाएगा। मामला चुनावी राजनीति से से जुड़ा होने के कारण उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी और मुख्यमंत्री कमलनाथ आपस में चर्चा करने के बाद चुनाव संबंधी निर्णय लेंगे। सीएम कमलनाथ की सहमति मिलने के बाद विभाग एकेडमिक कैलेंडर के मुताबिक छात्रसंघ चुनाव आगामी सत्र में सितंबर-अक्टूबर में आयोजित किए जाएंगे। गत वर्ष चुनाव को लेकर कालेजों को अपने स्तर पर तैयारियां करने के लिए निर्देश किया गया था, लेकिन समय बीतने के बाद चुनाव नहीं हो सके। इसके चलते आगामी सत्र में चुनाव कराने के लिए प्राचार्यों को ज्यादा मशक्कत नहीं करना होगी।

क्या हुआ था गत वर्ष
गत वर्ष तत्कालीन प्रमुख सचिव नीजर मंडलोई ने मंत्री पटवारी को बताया कि विधानसभा चुनाव के कारण छात्रसंघ चुनाव कराना मुश्किल है। वार्षिक पद्वति होने के कारण विद्यार्थियों के पास दिसंबर से फरवरी तक पढ़ने का मौका मिल पाएगा।। इसके बाद देशभर में लोकसभा चुनाव के चलते आचार संहिता लागू हो जाएगी। ऐसे में छात्रसंघ चुनाव कराना आसान नहीं होगा। इसलिए उन्हें स्थगित करना ठीक होगा। इसके बाद चुनाव नहीं हो सके थे।

लगेगाा पुलिस बल
छात्रसंघ कालेजों विवाद की स्थिति निर्मित होती है। विद्यार्थी एक दूसरे अगवाह तक करवा लेते हैं। इसलिए विभाग उम्मीदवार छात्राओं को सुरक्षा देने के साथ कड़ी सुरक्षा व्यवस्था देने के लिए काफी पुलिस बल का उपयोग करेगा।