ठंड में रोजाना तिल खाने के हैं कई फायदे

0
16

सर्दियां आयी नहीं कि ज्यादातर लोगों के घर में गुड़ के साथ मिलाकर तिल की चीजें बनने लगती हैं। फिर चाहे तिल का लड्डू हो या तिल की पट्टी… ठंड के मौसम में तिल खाने का अपना ही मजा है। लेकिन स्वाद के साथ-साथ तिल सेहत के लिए भी ढेरों फायदों वाला है। काला तिल हो या सफेद- दोनों ही सेहत के लिए लाभकारी हैं। शोध भी बताते हैं कि तिल में सेसमीन नाम का ऐंटिऑक्सिडेंट पाया जाता है, जो कई रोगों में फायदेमंद है। यहां जानें तिल खाने के फायदों के बारे में…

​दिमाग की ताकत बढ़ेगी
एक शोध के अनुसार तिल में प्रोटीन, कैल्श‍ियम, मिनरल्स, मैगनीशियम, आयरन, और कॉपर समेत कई पोषक तत्व पाए जाते हैं और सर्दियों में तिल का सेवन करने से दिमाग की ताकत बढ़ती है। रोजाना तिल का सेवन करने से याददाश्त कमजोर नहीं होती और बढ़ती उम्र का असर दिमाग पर जल्दी नहीं होता।

नींद अच्छी आएगी, तनाव होगा कम
तिल में कुछ ऐसे तत्व और विटमिन्स भी पाए जाते हैं जिससे नींद अच्छी आती है और तनाव के साथ-साथ डिप्रेशन को कम करने में भी मदद मिलती है।

​हड्डियां होंगी मजबूत
सर्दियां आयीं नहीं कि हड्डियां और जोड़ों के दर्द से जुड़ी समस्याएं परेशान करने लगती हैं। ऐसे में तिल का सेवन आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। दरअसल, तिल में जस्ता, कैल्शियम और फॉस्फॉरस जैसे जरूरी खनिज पाए जाते हैं, जो शरीर की हड्डियों के लिए लाभकारी हैं। ये खनिज नई हड्डियों को बनाने, हड्डियों को मजबूत करने और उनकी मरम्मत करने में मदद करते हैं।

​हाइपरटेंशन रहेगा दूर
तिल में पाया जाने वाला तेल हाई ब्लड प्रेशर को कम करने में मदद करता है। इससे कार्डियोवस्क्युलर सिस्टम पर तनाव कम होता है और हृदय की कई समस्याओं को रोकने में मदद मिलती है। इसके अलावा, मैग्नीशियम हाइपरटेंशन को कम करने के लिए जाना जाता है और तिल इस जरूरी मिनरल से भरा है और इसके सेवन से शरीर को जरूरी 25 फीसदी मैग्नीशियम मिलता है।

​कलेस्ट्रॉल कम करता है तिल
कलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में काला तिल लाभकारी है। इनमें सेसामिन और सेसमोलिन नामक दो पदार्थ होते हैं, जो लिग्नांस नामक फाइबर का समूह होते हैं। लिग्नांस के प्रभाव से कलेस्ट्रॉल कम होता है, क्योंकि वे आहार फाइबर में समृद्ध हैं।

​तिल खाएं, लेकिन लिमिट में रहकर
बहुत ज्यादा तिल का सेवन भी शरीर के लिए खतरनाक साबित हो सकता है लिहाजा लिमिट में रहकर ही इसका सेवन करें।– तिल ज्यादा खाने से जलन की समस्या हो सकती है।– ज्यादा खाने से ऐलर्जी की समस्या भी हो सकती है।– तिल के अधिक सेवन से दस्त की समस्या हो सकती है।– बहुत ज्यादा तिल खाने से खुजली और त्वचा पर चकत्ते हो सकते हैं।