दीपोत्सव की तरह मथुरा में मनाई जाएगी जन्माष्टमी

0
42

 
लखनऊ 

अयोध्या में दीपोत्सव का मेगा शो करने के बाद अब योगी सरकार मथुरा में कृष्ण जन्मोत्सव का भव्य आयोजन करेगी। सरकार के साथ देश-विदेश से हस्तियां उसमें शिरकत करेंगी। सीएम योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को ब्रज तीर्थ विकास बोर्ड की बैठक में इसकी तैयारी के निर्देश दिए। 

योगी सरकार ने भगवान राम की अयोध्या वापसी की खुशी में दीपावली मनाए जाने की पौराणिक मान्यता को उत्सव में उतारा है। पिछले दो साल से वहां दीपोत्सव का भव्य आयोजन हो रहा है। योगी के निर्देश पर वृंदावन में भी होली के भव्य आयोजन और ब्रैंडिंग की शुरुआत हो चुकी है। अब सरकार कृष्ण जन्माष्टमी भी बड़े पैमाने पर मनाएगी।

बैठक में योगी ने कहा कि अयोध्या के दीपोत्सव, काशी की देव दीपावली, विंध्याचल का नवरात्र और पुरी की जगन्नाथ यात्रा की तर्ज पर मथुरा में जन्माष्टमी का भी भव्य आयोजन करे। इससे हमारे सभी पर्व स्थानीय न होकर वैश्विक हो जाएंगे। देश-दुनिया के पर्यटक यहां खिंचे चले आएंगे और पर्यटन की संभावनाओं में चार-चांद लग जाएंगे। स्थानीय स्तर पर लोगों को बड़े पैमाने पर रोजगार भी मिलेगा। 

मंदिरों, घरों में होगी रोशनी 
योगी ने कहा कि जन्माष्टमी पर श्रीकृष्ण से संबंधित मथुरा के सभी स्थानों पर रोशनी के लिए रंगीन एलईडी लाइट लगवाएं। मंदिरों, घरों और सड़कों पर भी इसी तरह व्यवस्था करें। तीर्थ स्थानों से पूरी दुनिया को संदेश जाता है, इसलिए वहां की साफ-सफाई, पर्यटकों की मूलभूत सुविधाओं और सुरक्षा को प्राथमिकता पर रखें। तीर्थ स्थानों पर पॉलीथीन के बैन को प्रभावी तरीके से लागू करें। 
विश्वनाथ कॉरिडोर की तर्ज पर विंध्याचल का विकास 
बैठक में काशी विश्वनाथ की तर्ज पर विंध्याचल के समग्र विकास पर भी चर्चा हुई। मंदिरों में चढ़ावे के उपयोग की संभावनाएं तलाशने के लिए भी मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए। ब्रज तीर्थ विकास परिषद की अगुआई में चल रही 86 करोड़ की दो दर्जन परियोजनाओं को नवंबर से पहले पूरा करने के भी निर्देश दिए। बैठक में मुख्य सचिव अनूप चंद्र पांडेय, ब्रज तीर्थ विकास बोर्ड की उपाध्यक्ष शैलजा कांत मिश्रा, अपर मुख्य सचिव अवनीश कुमार अवस्थी और संबंधित विभाग के अधिकारी उपस्थित थे।