न्यूजीलैंड में दोहरा शतक जमाने वाले पहले विदेशी कप्तान बने जो रूट

0
8

हेमिल्टन    
इंग्लैंड के कप्तान जोए रूट टेस्ट में न्यूजीलैंड में दोहरा शतक जमाने वाले मेहमान टीम के पहले कप्तान बन गए हैं। उन्होंने यहां सेडन पार्क मैदान पर खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच की पहली पारी में 226 रनों की पारी खेली। मैच के चौथे दिन रूट ने दोहरा शतक पूरा कर अपनी टीम को भी मजबूत स्थिति में पहुंचाया। रूट ने अपने साथी ओली पोप के साथ एक जोखिम भरा रन लेकर अपना दोहरा शतक पूरा किया। रूट ने दोहरे शतक का जश्न मानने से पहले पोप से इस जोखिम भरे रन के लिए माफी मांगी।

इसी के साथ जो रूट ने क्रिस गेल के न्यूजीलैंड की जमीन पर किसी भी कप्तान द्वारा बनाए गए सर्वोच्च स्कोर के रिकॉर्ड को भी तोड़ दिया। क्रिस गेल ने वेस्टइंडीज का कप्तान रहते न्यूजीलैंड में 197 रनों की पारी खेली थी। यह रूट का टेस्ट में दूसरा सर्वोच्च स्कोर भी है। पाकिस्तान के खिलाफ तीन साल पहले खेली गई 254 रनों की पारी उनका टेस्ट में सर्वश्रेष्ठ स्कोर है। इस टेस्ट मैच से पहले रूट खराब फॉर्म से परेशान थे।

इंग्लैंड ने पहली पारी में 476 रन बना न्यूजीलैंड पर 101 रनों की बढ़त ले ली थी। चौथे दिन सोमवार का खेल खत्म होने तक हालांकि किवी टीम ने इस बढ़त को कम कर दिया और वह इंग्लैंड से अब सिर्फ पांच रन पीछे है। किवी टीम ने दिन का अंत दो विकेट के नुकसान पर 96 रनों के साथ किया। कप्तान केन विलियमसन 37 और रॉस टेलर 31 रन बनाकर खेल रहे हैं। किवी टीम को हालांकि दो रन के कुल स्कोर पर ही जीत रावल (0) के रूप में पहला नुकसान हो गया था। सैम कुरैन ने रावल को आउट किया। क्रिस वोक्स ने 28 के कुल स्कोर पर दूसरे सलामी बल्लेबाज टॉम लाथम (18) को पवेलियन भेजा। इसके बाद विलियम्सन और टेलर ने मेहनत करते हुए विकेट पर पैर जमाए। इन दोनों के बीच अभी तक 68 रनों की साझेदारी हो रही है।

इससे पहले, इंग्लैंड ने दिन की शुरुआत पांच विकेट के नुकसान 269 रनों पर की थी। मेहमान टीम पर संकट था कि क्या वो न्यूजीलैंड के पहली पारी के स्कोर 375 रन से आगे निकल पाएगी या नहीं। रूट और अपना पहला टेस्ट मैच खेल रहे ओली पोप ने इस बात की जिम्मेदारी ली और टीम को न सिर्फ किवी टीम के स्कोर के पार पहुंचाया बल्कि अच्छी बढ़त भी दिलाई। दोनों ने छठे विकेट के लिए 193 रनों की साझेदारी को अंजाम दिया।

202 गेंदों पर 75 रन बनाने वाले पोप 455 के कुल स्कोर पर नील वेग्नर की गेंद पर रावल के हाथों धरे गए। तीन रन बाद मिशेल सैंटनर ने रूट की पारी का अंत किया। रूट ने अपनी पारी में 441 रनों का सामना किया और 22 चौके तथा एक छक्का मारा।