पदस्थापना : तरुण पिथोड़े भोपाल कलेक्टर, तेजस्वी नायक को बैतूल कलेक्टर 

0
5

भोपाल
राज्य शासन ने 12 दिन के अंतराल के बाद भोपाल में कलेक्टर की पदस्थापना कर दी है। बैतूल में कलेक्टरी कर रहे तरुण पिथोड़े भोपाल कलेक्टर होंगे। उनके स्थान पर वित्त विभाग में संचालक की जिम्मेदारी निभा रहे तेजस्वी नायक बैतूल कलेक्टर पदस्थ किए गए हैं। दोनों ही अफसर एक दो दिनों में प्रभार संभाल लेंगे। 

जीएडी द्वारा बुधवार को जारी आदेश के मुताबिक 2009 बैच के आईएएस अधिकारी तेजस्वी नायक को बैतूल कलेक्टर बनाया गया है। नायक इसके पहले बड़वानी कलेक्टर रह चुके हैं। पिछले करीब एक साल से वे वित्त विभाग में संचालक के पद पर पदस्थ हैं। उधर 2009 बैच के ही अधिकारी बैतूल कलेक्टर पिथोड़े को भोपाल की कमान सौंपी गई है। पिथोड़े इसके पहले राजगढ़, सीहोर में कलेक्टरी कर चुके हैं। भोपाल कलेक्टर का पद पिछले 12 दिनों से खाली था। एक जून की आधी रात किए गए तबादले में भोपाल कलेक्टर सुदाम खाड़े को स्थानांतरित कर दिया गया था, बाद में वे सड़क विकास निगम में एमडी बनाए गए हैं पर उनके स्थान पर भोपाल कलेक्टर की पदस्थापना के लिए सरकार अफसर तय नहीं कर पा रही थी। 12 दिन बाद यह तलाश पूरी हुई है। 

भोपाल कलेक्टर के लिए नगरीय विकास विभाग में उपसचिव मनीष सिंह का नाम चला था। सूत्रों के अनुसार पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह भोपाल कलेक्टर मनीष सिंह को बनवाना चाहते थे पर सीएम सचिवालय इसके लिए सहमत नहीं था। इस बीच सतना पदस्थ किए गए खंडवा से स्थानांतरित कलेक्टर विशेष गढ़पाले और तेजस्वी नायक का नाम भी भोपाल कलेक्टर के लिए चला था पर अंतत: पिथोड़े के नाम पर सीएम कमलनाथ ने सहमति दी। गौरतलब है कि पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कल प्रेस कांफ्रेंस कर सरकार पर आरोप लगाया था कि दस दिन से भोपाल कलेक्टर की पदस्थापना सरकार नहीं कर पा रही है। इसके लिए कांग्रेस कार्यालय में बोली लगाई जा रही है। इस कारण ऐसी स्थिति बन रही है।