पाकिस्तान के झंडे और पुतले 14 अगस्त को फूंकेगा मुस्लिम राष्ट्रीय मंच

0
10

मेरठ
राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) से जुड़े संगठन मुस्लिम राष्ट्रीय मंच एक अगस्त से 14 अगस्त तक पाकिस्तान के झंडे और पुतले फूंकेगा। मंच का मानना है कि देश का बंटवारा उनके लिए दुख की बात है इसलिए उसके विरोध में ऐसा कर गुस्से का इजहार किया जाएगा। यही नहीं, पाक अधिकृत कश्मीर को छोड़ने की पाकिस्तान से मांग भी की जाएगी। इसके बाद 15 अगस्त को भारत की आजादी के दिन जश्न मनाया जाएगा।

मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के मेरठ प्रांत संयोजक कदीम आलम ऐडवोकेट के बताया कि अंग्रेजों से आजादी की जितनी खुशी भारत में थी, उससे कहीं ज्यादा जख्म बंटवारे का मिला। पाकिस्तान को देश से अलग किया जाना गलत था। इस वजह से मुस्लिम राष्ट्रीय मंच का प्लान है कि एक अगस्त से 14 अगस्त तक वह हर जिले में पाकिस्तान का झंडा और पुतले फूंकेगा। देश के बंटवारे के खिलाफ आवाज बुलंद करेगा। मंच हमेशा से पाक अधिकृत कश्मीर को भारत का हिस्सा मानता रहा है इसलिए एकबार फिर उस हिस्से को भारत को सौंपने की मांग 14 दिनों तक चलने वाले आंदोलन में की जाएगी।

पर्यावरण के लिए काम कर रहा मंच
उधर, मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के कार्यकर्ता मेरठ प्रांत में जगह-जगह पौधारोपण कर पर्यावरण की अलख जगा रहे हैं। यह अभियान 15 जुलाई तक चलेगा। मंच का मानना है कि अधिक पेड़ होने से बारिश अच्छी होगी, सूखा नहीं पड़ेगा, किसान की फसल प्रभावित नहीं होगी।

बड़ी संख्या में आरएसएस से जुड़ रहे युवा
आरएसएस का मानना है कि समाज में संघ का काम बढ़ा है। संघ के विस्तार में युवाओं की बड़ी भूमिका है। बड़ी तादाद में तकनीकी ज्ञान रखने वाले युवा संघ से जुड़ रहे हैं। संघ का मानना है कि बीते कुछ सालों में संघ से जुड़ने वाले 15 साल से ऊपर के युवाओं की तादाद 50 फीसदी से ज्यादा है। इनमें 20 से 35 साल आयु वाले युवा सबसे ज्यादा हैं। युवाओं का और साथ हासिल करने के लिए संघ ने अपनी प्रांत टोलियों से कहा है कि वह युवाओं को जोड़ने का क्रम जारी रखें।