‘प्रशांत किशोर की कंपनी का JDU से कोई रिश्ता नहीं, हम चाहते हैं कि ममता चुनाव हारें’

0
28

पटना 
जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) ने साफ कर दिया है कि वो 2020 में बिहार विधानसभा का चुनाव एनडीए के खेमे से ही लड़ेगी. पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के बाद केसी त्यागी ने कहा कि हम NDA के साथ पूरी तरह से हैं और 2020 में NDA के साथ ही चुनाव लड़ेंगे.

केसी त्यागी ने कहा कि मोदी मंत्रिमंडल में शामिल होना कोई बड़ा मुद्दा नहीं है. इसे लेकर झूठी अफवाह फैलायी गयी है. केन्द्र में BJP को पूर्ण बहुमत मिला है और जेडीयू ने कभी मंत्रिमंडल में हिस्सेदारी नहीं मांगी थी. नीतीश जी ने खुद फैसला लिया था कि पार्टी मंत्रिमंडल में शामिल नहीं होगी. उन्होंने कहा कि मंत्री को लेकर किसी का नाम फाइनल नहीं था.

त्यागी ने प्रशांत किशोर को लेकर भी सफाई दी और कहा कि प्रशांत किशोर की कंपनी का जेडीयू से कोई रिश्ता नहीं हैं. जब आंध्र प्रदेश में जगन मोहन रेड्डी के लिए उन्होंने काम किया था तो सवाल क्यों नहीं उठाया गया था. केसी ने कहा कि जेडीयू चाहती है कि पश्चिम बंगाल में टीएमसी चुनाव हारे और ममता बनर्जी की भी हार हो.

केसी ने कहा कि जेडीयू को हम राष्ट्रीय पार्टी बनाना चाहते हैं और 2020 तक इसका लक्ष्य रखा गया है यही कारण है कि चार राज्यों में होनेवाले चुनाव में जदयू अकेले चुनाव लड़ेगी. हमने नागालैंड में अगर भाजपा को समर्थन नहीं दिया होता, तो आज वहां एनडीए की सरकार नहीं होती. केसी ने कहा कि बिहार के चुनाव नतीजों की तरह हमारा दल अरुणाचल प्रदेश की जीत से भी प्रसन्न है.