बजट से पहले उद्योग मंडल से वित्त मंत्री की मंत्रणा, इन मुद्दों पर चर्चा संभव

0
8

नई दिल्‍ली

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण अपना पहला पूर्ण बजट पेश करने से पहले देश के प्रमुख उद्योग संगठनों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक करेंगी. 11 जून को होने वाली इस बैठक में कन्फेडरेशन ऑफ इंडियन इंडस्ट्री (CII)और चेंबर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (Ficci) जैसे उद्योग निकायों के प्रतिनिधियों के शामिल होने की उम्मीद है. देश की पहली पूर्णकालिक महिला वित्त मंत्री सीतारमण की यह पहली संयुक्त बैठक होगी.

इन मुद्दों पर चर्चा संभव

न्‍यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक इस बैठक में विदेशी निवेश (FDI) और औद्योगिक उत्पादन बढ़ाने को लेकर चर्चा होने की संभावना है. वित्त मंत्री उत्पादकता बढ़ाने के लिए विलय के मुद्दे पर विचार, घरेलू मांग को पूरा करने के लिए सेवा श्रेणी का विस्तार और घरेलू उत्पादन एवं निर्यात को बढ़ाने के लिए शुल्क ढांचे में बदलाव पर विचार मांग सकती हैं. बता दें कि अधिकांश उद्योग निकाय पहले ही अपने मांगें वित्त मंत्रालय को विचार करने के लिए सौंप चुके हैं.

बजट के लिए मांगे सुझाव

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण 5 जुलाई को मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला पूर्ण बजट पेश करेंगी. इससे पहले निर्मला सीतारमण सोशल मीडिया के जरिए बजट को लेकर नए आइडिया और सुझाव भी मांग रही हैं.  सीतारमण ने हाल ही में ट्वीट कर कहा, ''स्कॉलर्स, इकोनॉमिस्ट्स और कोई भी जिनकी दिलचस्पी हो वो प्रिंट इलेक्ट्रॉनिक और सोशल मीडिया के जरिए अपने सुझाव दे सकते हैं. मैं उन्हें पढ़ती हूं और मेरी टीम उन सुझावों को इकट्ठा करेगी. आपका हर सुझाव बहुमूल्य है.''

बता दें कि चुनावी वर्ष होने के कारण इस बार फरवरी में अंतरिम बजट पेश किया गया था. तब वित्त मंत्री अरुण जेटली की सेहत ठीक नहीं थी और इस वजह से पीयूष गोयल ने अंतरिम बजट पेश किया था. अंतरिम बजट सिर्फ तीन महीने के लिए होता है जिसके बाद चुनाव में जीत हासिल कर बनने वाली अगली सरकार पूरे वित्त वर्ष के लिए आम बजट पेश करती है.