बिहार की 6162 किलोमीटर ग्रामीण सड़कें अपग्रेड की जाएंगी

0
7

 पटना 
बिहार में 6162 किलोमीटर ग्रामीण सड़कें अपग्रेड की जाएंगी। प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना (पीएमजीएसवाई) के तृतीय फेज का सर्वे 15 अक्टूबर से शुरू होगा। दो माह में सड़कों के सर्वे  का काम पूरा हो जाएगा। हर जिले में यह सर्वे किया जाएगा कि तृतीय फेज में किन-किन सड़कों को अपग्रेड जाए। तृतीय फेज में वैसी ग्रामीण सड़कों को ही शामिल किया जाएगा, जो दस साल पुरानी हैं। पीएमजीएसवाई तृतीय फेज की सड़कों के चयन के लिए पांच प्रमुख मापदंड तय किए गए हैं। इनमें बसावट की जनसंख्या, बाजार की सुविधा, शिक्षा सुविधा, मेडिकल व परिवहन सुविधा शामिल हैं। हर मापदंड के लिए अलग-अलग अंक निर्धारित किए गए हैं।
 
बसावट की जनसंख्या, मार्केट, शिक्षा, मेडिकल सुविधा पर 30-30 व परिवहन पर 10 अंक निर्धारित हैं। इस मापदंड पर जो सड़कें खरी उतरेंगी उन्हीं को तृतीय फेज में शामिल किया जाएगा। सड़कों का चयन प्राथमिकता के आधार पर होगा। यानी जो प्रखंड कार्यालय, स्थानीय बाजार, बस स्टैंड, पेट्रोल पंप, अस्पताल, स्कूल, कॉलेज, स्वास्थ्य केन्द्र, जीविका सेंटर, हाट बाजार को जोड़ेगी उनको प्राथमिकता दी जाएगी। इसमें भी पहले वे सड़कें अपग्रेड होंगी जो ग्रामीण कृषि बाजार, फूड प्रोसेसिंग सेंटर, कृषि मंडी, हायर सेकेंडरी स्कूल व अस्पताल को जोड़ती हों।