माखनलाल चतुर्वेदी पत्रकारिता विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति बीके कुठियाला भगौड़ा घोषित

0
9

भोपाल
माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति प्रो. बृजकिशोर कुठियाला भगौड़ा घोषित कर दिए गए हैं. भोपाल ज़िला की स्पेशल अदालत ने उन्हें भगौड़ा घोषित कर दिया. उन्हें अदालत ने 31 अगस्त तक पेश होने का समय दिया है. अगर तब भी कुठियाला कोर्ट में पेश नहीं हुए तो EOW उनकी संपत्ति कुर्क करने का आवेदन कोर्ट में देगी.

माखनलाल चतुर्वेदी पत्रकारिता यूनिवर्सिटी में आर्थिक अनियमितताओं के मामले में पूर्व कुलपति बीके कुठियाला की मुसीबत बढ़ गयी है.स्पेशल जज संजीव पांडेय की अदालत ने 31 अगस्त तक कुठियाला को आज भगौड़ा घोषित कर दिया. कोर्ट ने उन्हें 31 अगस्त तक पेश होने का आदेश दिया है.यदि उसके बाद भी वो पेश नही हुए तो उनकी संपत्ति कुर्क की जा सकती है.

बी के कुठियाला, माखनलाल चतुर्वेदी पत्रकारिता यूनिवर्सिटी में भ्रष्टाचार के मामले में फंसे हैं. हाईकोर्ट में उनकी अग्रिम ज़मानत याचिका खारिज की जा चुकी है. विवि में धांधली के मामलों में कुठियाला सहित 20 लोगों को आरोपी बनाया गया है.

हाईकोर्ट से अग्रिम जमानत याचिका खारिज होने के बाद सोमवार को आर्थिक अपराध प्रकोष्ठ (ईओडब्ल्यू) जिला अदालत पहुंचा था.वहीं कुठियाला की तरफ से उनके वकील ने अग्रिम जमानत के लिए सुप्रीम कोर्ट जाने का जिक्र करते हुए एक मौका और देने का आग्रह किया था. अदालत ने दोनों पक्षों को सुनने के बाद फैसला सुरक्षित रख लिया था. अदालत ने आज अपना फैसला सुनाया.

फरार घोषित होने के बाद भी अगर कुठियाला अदालत में पेश नहीं होते हैं तो फिर EOW उनकी चल-अचल संपत्ति कुर्क करने के लिए वो अदालत में आवेदन देगा.