मायावती ने कहा, दलबदल पर सदस्यता समाप्त करने का कानून बने

0
7

 लखनऊ।
 
बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा है कि देश में दलबदल करने वालों की सदस्यता समाप्त करने के लिए कानून बनना चाहिए। ट्वीट करते हुए उन्होंने कहा है कि तोड़फोड़ की राजनीति रोकने के लिए इस कानून की जरूरत है।

मायावती ने कहा कि भाजपा एक बार फिर कर्नाटक व गोवा आदि में जिस प्रकार से अपने धनबल व सत्ता का घोर दुरुपयोग करके विधायकों को तोड़ने आदि का काम कर रही है, वह देश के लोकतंत्र को कलंकित करने वाला है। वैसे अब समय आ गया है जब दलबदल करने वालों की सदस्यता समाप्त हो जाने वाला सख्त कानून देश में बने।

उन्होंने कहा कि भाजपा ईवीएम में गड़बड़ी व धनबल आदि से केंद्र की सत्ता में दोबारा आ गई है। इसके बाद भी उसे सन् 2018 व 2019 में देश में अब तक हुए सभी विधानसभा आमचुनाव में अपनी हार की खीज है। इसीलिए वह किसी भी प्रकार से गैर-भाजपा भाजपा सरकारों को गिराने के अभियान में लग गई है। बसपा इसकी कड़े शब्दों में निंदा करती है।