वेस्ट यूपी में आज बारिश के आसार, लखनऊ-कानपुर में फिर बढ़ी ठंड

0
15

 मेरठ 
पहाड़ों पर बने पश्चिमी विक्षोभ से आज मेरठ सहित वेस्ट यूपी के अधिकांश हिस्सों में मध्यम से तेज बारिश होने के आसार हैं। कुछ स्थानों पर ओलावृष्टि भी हो सकती है। कल दुपहर तक बारिश का सिलसिला जारी रह सकता है और शाम को बादल छंटने शुरू हो जाएंगे। 18 जनवरी को घना कोहरा मैदानों में ठिठुरन को बढ़ाएगा। 19-20 को फिर से बारिश दस्तक देगी। इस दौरान तेज हवा भी चलने की आशंका है। ऐसे में आज से 20 जनवरी तक दिन के तापमान में बड़ी गिरावट से सर्दी की मार बढ़ सकती है।

बुधवार को मेरठ की सुबह घने कोहरे के साथ हुई। 11 बजे तक मेरठ और आसपास के क्षेत्रों में घना कोहरा छाया रहा। दुपहर बाद करीब तीन घंटे के लिए धूप भी निकली, लेकिन इसके बाद आसमान में बादल छा गए। मौसम विभाग के अनुसार बुधवार को मेरठ में दिन का पारा 17.2 और रात का आठ डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। मंगलवार के सापेक्ष दिन के तापमान में 1.4 डिग्री सेल्सियस की बढ़ोतरी हुई जबकि रात का तापमान 2.4 डिग्री सेल्सियस गिर गया। मौसम विभाग के अनुसार आज दिल्ली-एनसीआर और वेस्ट यूपी में बारिश एवं ओलावृष्टि की आशंका है।

कानपुर में बारिश ने बढ़ाई ठंड, आज बंद रहेंगे सभी स्कूल
निजी एजेंसी स्काईमेट के अनुसार बिजनौर, सहारनपुर, मुजफ्फरनगर, मुरादाबाद, रामपुर, बरेली, मेरठ, बुलंदशहर, शाहजहांपुर, फिरोजाबाद, अलीगढ़ और हमीरपुर में मध्यम से तेज बारिश के आसार हैं। इन शहरों में कुछ स्थानों पर ओलावृष्टि भी हो सकती है। एजेंसी के अनुसार बारिश का यह सिलसिला 17 जनवरी की दुपहर तक जारी रह सकता है। शाम तक मौसम साफ होने की उम्मीद है, लेकिन कुछ क्षेत्रों में छुटपुट बारिश हो सकती है। 18 जनवरी को मेरठ सहित वेस्ट यूपी में घना कोहरा छाने के आसार हैं। हालांकि 18 जनवरी की देर रात से मौसम में फिर से बदलाव आएगा और 19 जनवरी को वेस्ट यूपी में एक बार फिर से बारिश दस्तक देगी। एजेंसी के अनुसार इस आज से 20 जनवरी तक बारिश एवं ओलावृष्टि से दिन के तापमान में बड़ी गिरावट के आसार हैं। इससे दिन में सर्द दिन जैसे हालात बन सकते हैं।
 
मूसलाधार बारिश ने लखनऊ और कानपुर में फिर बढ़ाई ठंड
तीन दिन की धूप के बाद बुधवार को लखनऊ, कानुपर और उसके आस पास के इलाकों में बुधवार को सुबह से बदली छाई रही। सुबह और दोपहर हूई बूंदाबांदी से तापमान और गिर गया। वहीं, देर रात फिर मूसलाधार बारिश शुरू हो गई। हालांकि इससे तापमान पर तो खास असर नहीं पड़ा लेकिन सर्दी का अहसास बढ़ गया। गुरुवार और शुक्रवार को भी हल्की से मध्यम बारिश की संभावना हैं। इसके बाद उत्तर-पश्चिमी हवाओं से मौसम फिर सर्द हो जाएगा।

मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक कई साल बाद मकर संक्रांति के दिन बारिश हुई है। वहीं, सात 10 बजे दोबारा शुरू हुआ बारिश देर रात तक होती रही। उत्तर-पूर्वी हवाओं के चलते आसमान पर घने बादल छाए हुए हैं। बुधवार को सुबह से शाम तक कई बार पानी बरसा और दिनभर अंधेरा छाया रहा। सूर्यदेव के भी ठीक से दर्शन नहीं हुए। सुबह से बूंदाबांदू की शुरुआत हुई। शहर में कहीं कम तो कहीं ज्यादा बारिश हुई। सुबह 9 बजे से 12 बजे के बाद तक बारिश कभी धीमी, कभी तेज बनी रही। तेज हवाएं चलीं तो इसने सर्दी का अहसास अधिक कराया। सायंकाल और फिर शाम को भी हल्की से मध्यम बारिश होती रही।