सरकार भले ही बदल गई हो लेकिन शिक्षा की व्यवस्था नहीं बदली

0
73

सागर-रहली

सरकार भले ही बदल गई हो लेकिन शिक्षा की व्यवस्था नहीं बदली

सागर के रहली क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले ग्राम पंचायत कासल पिपरिया शासकीय स्कूल की बिल्डिंग की हालत जर्जर कहीं पर खिड़कियां टूटी डली है तो कहीं पर गेट एक ही कब्जे पर लटके है जिम्मेदारों को इसकी कोई भी परवाह नहीं है उनका तो एक ही उसूल है कि पेमेंट लेने का जब प्रभारी से इसके बारे में से पूछा गया तो उन्होंने अपना पल्ला झाड़ते हुए कहा कि सब सही है यह बिल्डिंग मौत को न्योता दे रही है एक तरफ दूसरी तरफ शिक्षक निश्चिंतता से अपनी सफाई देने में लगे वहीं जब साला के प्रभारी बद्री नेमा से साफ सफाई के बारे में बात की गई उनका कहना था कि कि यह मेरी जवाबदारी नहीं है यह पंचायत से होती है जब इसके संबंध में सचिव से बात की गई तो पंचायत के सचिव ने बताया कि यह काम पंचायत नहीं करती है बच्चों के शौचालय की स्थिति इतनी खराब है कि शौचालय अंदर जाने में डर लगता ह इसमें स्कूल के शिक्षक द्वारा लापरवाही बरती जा रही जब हमारे संवाददाता सत्यनारायण शुक्ला ने कक्षाओं की स्थिति देखी तो बच्चों के लिए बैठने के लिए कक्षाएं होती हैं लेकिन उसी कक्षा में टेबल ऊपर रखी कुर्सी और कक्षा में रखी कुछ लकड़ी यह बताने को मजबूर थी कि इसमें क्लास नहीं लगती क्लास में साफ सफाई ना होने के साथ-साथ लैट्रिन और बाथरूम भी क्षतिग्रस्त स्थिति में है